ALL देश/विदेश यूपी राजनीति ज्योतिष/धर्म स्पोर्ट्स विशेष
जिनपिंग करते है 6 करोड़ की विशेष कार का इस्तेमाल
October 12, 2019 • Desk

पीएम मोदी चेन्‍नई से ममल्‍लापुरम तक हेलीकॉप्‍टर से गए थे लेकिन शी ने अपनी कार पर भरोसा जताया। चीनी राष्‍ट्रपति जिनपिंग चेन्‍नई के आईटीसी ग्रैंड चोला में रुके हुए हैं और यहां से महाबलीपुरम तक पहुंचने के लिए उन्‍होंने अपनी आलिशान कार का इस्तेमाल किया राष्‍ट्रपति जिनपिंग ने 56 किलोमीटर की इस दूरी को कवर करने के लिए हेलीकॉप्‍टर की जगह अपनी लग्‍जरी लिमोजिन हॉन्‍गची पर भरोसा जताया। 

हॉन्‍गकी वह लग्‍जरी चाइनीज कार है जिसका प्रयोग चीन की कम्‍युनिस्‍ट पार्टी के नेता माओ त्से तुंग के समय से करते आ रहे हैं।कार चीनी राष्‍ट्रपति के काफिले के साथ खासतौर पर आई है।

फोटो : साभार 

जिनपिंग को माओ के बाद चीन का सबसे ताकतवर नेता माना जाता है। राष्‍ट्रपति होने के अलावा वह कम्‍युनिस्‍ट पार्टी के मुखिया और चीनी मिलिट्री के सु्प्रीम कमांडर भी हैं।उनकी सुरक्षा को लेकर अधिकारी विशेष सावधानी बरतते है। पिछले वर्ष जब उन्‍होंने संविधान में संशोधन करके राष्‍ट्रपति के लिए दो बार से ज्‍यादा के कार्यकाल पर लगे बैन को हटाने के अलावा हॉन्‍गची के प्रयोग का नियम भी शुरू किया। अब अमेरिकी राष्‍ट्रपति की ही तरह चीनी राष्‍ट्रपति भी आधिकारिक तौर पर अपने हर दौरे पर इसी कार का प्रयोग करेंगे।

लिमोजिन हॉन्‍गची विशेष सुविधाओं से लैस कार है -

शी की लिमोजिन पूरी तरह से बुलेट प्रूफ है। यह कार सिर्फ आठ सेकेंड में जीरो से 100 किलोमीटर की स्‍पीड हासिल कर लेती है। 3,152 किलोग्राम की इस गाड़ी में चार दरवाजे हैं और यह 18 फीट लंबी और 6.5 फीट चौड़ी है। गाड़ी में रोल्‍स रॉयस और मर्सीडीज जैसी कारों में मौजूद सभी लग्‍जरी मुहैया कराई गई हैं। यह चीन की सबसे महंगी कार है जिसकी भारतीय रुपयों में कीमत करीब छह करोड़ है।