ALL देश/विदेश यूपी राजनीति ज्योतिष/धर्म स्पोर्ट्स विशेष
ग्राम प्रधानों ने सामूहिक इस्तीफा देने की दी चेतावनी
November 27, 2019 • मनीष श्रीवास्तव ,जौनपुर • यूपी

जिलाधिकारी से न्याय नहीं मिलने पर ग्राम प्रधानों ने सामूहिक इस्तीफा देने की चेतावनी दे दिया। ग्राम प्रधनों ने समस्त कार्यों का बहिष्कार किया। 


जलालपुर - विकास खण्ड पर बुधवार के दिन प्रधान संघ के ब्लॉक अध्यक्ष गिरीजा शंकर तिवारी के नेतृत्व में ब्लॉक परिसर में एक बैठक किया गया।जिसमें छातीडीह तथा खेवसीपुर ग्राम प्रधान व प्रधान प्रतिनिधि के ऊपर मुसहरों के आवास का पैसा निकालवा कर रख लेने का गंम्भीर आरोप लगाकर इनके विरुद्ध जिलाधिकारी के आदेश पर मुकदमा पंजीकृत किया गया।और जेल भी जाना पड़ा।इस मुद्दे पर चर्चा करते हुए प्रधान संघ के अध्यक्ष ने जिलाधिकारी महोदय के ऐसे कार्यों की निन्दा की है।

प्रधानों का कहना है कि यदि हमारे विरुद्ध शिकायत मिलती है तो जाँच करवाकर तब कार्यवाही किया जाता।बैठक में प्रधानों ने यह ब्लाक के अधिकारियों व कर्मचारियों पर आरोप लगाते हुए कहा कि हम लोगों से ब्लॉक के ही अधिकारी व कर्मचारीयों ने कहा था कि मुसहर लाभार्थी का पैसा निकलवा कर आवास बनवाएं।और जब बनवा रहे है तो हमारे ही ऊपर जिलाधिकारी द्वारा कार्यवाही किया जा रहा है।आक्रोशित ग्राम प्रधानों ने बैठक में गुरुवार 27/11/2019 से शौचालय , आवास , मनरेगा , एमडीएम आदि सभी योजनाओं के कार्य का बहिस्कार किया है।और प्रधानों के ऊपर लगे आरोपों का निस्तारण पाँच दिसम्बर तक नहीं किए जाने पर पत्रक के माध्यम सभी प्रधान सामूहिक त्याग पत्र देने की चेतावनी दिए हैं।

इन सभी प्रकरण के सम्बंध में विकास खण्ड अधिकारी पी.के.त्रिपाठी से बात करने पर उन्होंने जानकारी देते हुए कहा कि हमारे या हमारे किसी कर्मचारियों द्बारा लाभार्थियों का पैसा निकालवा कर आवास बनाने जैसी कोई बात नहीं कही गई।सभी प्रधानो संघ ने बीडीओ को ज्ञापन सौंपा।