ALL देश/विदेश यूपी राजनीति ज्योतिष/धर्म स्पोर्ट्स विशेष
डीआईओएस समेत एक दर्जन अधिकारियो का वेतन जिलाधिकारी ने रोका
November 20, 2019 • मनीष श्रीवास्तव ,जौनपुर

जौनपुर। जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह की अध्यक्षता में मछलीशहर के तहसील सभागार में सम्पूर्ण समाधान दिवस का आयोजन सम्पन्न हुआ।

जौनपुर जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह

समाधान दिवस के अवसर पर जिलाधिकारी के समक्ष राशन, भूमि विवाद, प्रधानमंत्री आवास, शौचालय संबंधित विभागीय शिकायतें प्राप्त हुई।इस पर जिलाधिकारी ने मामलों को तत्काल निस्तारण के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि शिकायतकर्ता से से वार्ता अवश्य करें।फर्जी रिपोर्ट न दे। शिकायतों का निस्तारण सही ढंग से करें। 99 प्रतिशत समस्या भूमि विवाद की होती है, जिसका निस्तारण किया जाय।

उन्होंने उपजिलाधिकारी को निर्देश दिया कि जितनी पत्थरगड्डी उखाड़ी गयी है उसकी कानूनगों-लेखपाल से रिपोर्ट लेकर पत्थरगड्डी उखाड़ने वालों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराकर कानूनी कार्यवाही करें। भूमि विवादों का निस्तारण प्राथमिकता से करें। वरासत के मामलों को निस्तारण करने का अभियान चलाया जा रहा है।

अभियान में कोई मृतक छूटने न पाये जिसकी तस्दीक न हो पायी हो तथा उनके वारिसों का नाम खतौनी में दर्ज कराये। किसान सम्मान निधि योजना के शेष किसानों की सूची बनाकर अपलोड करें।समाधान दिवस में आयी सभी शिकायतों को कम्प्यूटर पर अपलोड करें तथा सभी शिकायतों का निस्तारण करें। लेखपाल अपने क्षेत्र के अराजक तत्वों पर नजर रखे।कोई भी व्यक्ति संदिग्ध लगे तो उसकी सूचना सम्बन्धित उपजिलाधिकारी तथा थाने पर दें।

जिलाधिकारी ने ग्राम भीलमपुर विकासखण्ड सुजानगंज में जिला कृषि अधिकारी अमित चौबे, खण्ड शिक्षा अधिकारी सुजानगंज, सहायक अभियन्ता पीडब्ल्यूडी तथा एडीओ पंचायत की संयुक्त टीम भेज कर गांव का विस्तृत निरीक्षण करने के निर्देश देते हुए रिपोर्ट प्रस्तुत करने को कहा।यह संयुक्त टीम ग्राम पंचायत के विद्यालय, राशन कार्ड तथा चिकित्सा संबंधी सुविधाओं का निरीक्षण कर रिपोर्ट प्रस्तुत करेगी।इसके साथ ही टीम ग्राम पंचायत में पिछले 02 वर्षों में दी गई धनराशि तथा कराए गए कार्यों का सत्यापन कर रिपोर्ट जिलाधिकारी के समक्ष प्रस्तुत करेगी।

जिलाधिकारी ने टीम को प्रधानमंत्री आवास, शौचालय तथा बरसात में गिरे हुए मकान का भौतिक सत्यापन कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए।जिलाधिकारी ने जिला पिछड़ा वर्ग कल्याण अधिकारी सुरेश कुमार मौर्य, जिला प्रोबेशन अधिकारी संतोष कुमार सोनी को राजकीय बालिका इंटर,कॉलेज मछलीशहर की जांच कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए।इस अवसर पर 216 शिकायती प्रार्थना पत्र प्राप्त हुई जिसमें मौके पर 08 निस्तारण किया गया। 

जिलाधिकारी ने जिला विद्यालय निरीक्षक बृजेश मिश्र, अधिशासी अभियंता विद्युत मछलीशहर, अधिशासी अभियंता लघु सिंचाई, अपर मुख्य अधिकारी जिला पंचायत, उप कृषि निदेशक जयप्रकाश,सीडीपीओ सुजानगंज,अवर अभियंता सिंचाई,खण्ड विकास अधिकारी सुजानगंज एवं मुंगराबादशाहपुर, एडीओ पंचायत सुजानगंज,अवर अभियंता लघु डाल नहर खण्ड, एसडीओ विद्युत मछलीशहर का सम्पूर्ण समाधान दिवस में अनुपस्थित होने पर आज का वेतन रोकने का निर्देश दिया। 

इस अवसर पर जिलाधिकारी के समक्ष विपिन मौर्या द्वारा शिकायत की गयी कि मछलीशहर तहसील में स्टाम्प वेन्डर बसन्त मिश्रा द्वारा स्टाम्प के लिए अधिक पैसे वसूले जाते है।शिकायतकर्ता की शिकायत पर तहसीलदार मछलीशहर द्वारा जांच की गयी जिसमें उक्त शिकायत सही पायी गयी।तहसीलदार की जांच रिपोर्ट के आधार पर जिलाधिकारी ने स्टाम्प वेन्डर का लाइसेन्स तत्काल प्रभाव से निलम्बित करने के निर्देश दिये। 

समाधान दिवस के अवसर पर कालीदीन पुत्र सहतु निवासी ग्राम कोदहू  मुंगराबादशाहपुर द्वारा जिलाधिकारी से शिकायत की गई कि काश्तकार सोहन द्वारा पथरगड्डी उखाड़ दी गई है।जिलाधिकारी ने कानूनगो राजेश कुमार यादव को पथरगड्डी कराकर रिपोर्ट प्रस्तुत करने का निर्देश दिया।शंभूनाथ पुत्र माता शरण द्वारा शिकायत की गई कि उनके चचेरे भाई अशोक पुत्र शिव मूर्ति द्वारा पैमाइश की गई जमीन की मेड बंदी तथा पथरगड्डी उखाड़ दी गई है। जिस पर जिलाधिकारी ने कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए थानाध्यक्ष मीरगंज को एफआईआर दर्ज कर कार्यवाही करने का निर्देश दिया।इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक रविशंकर छवि, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा0 रामजी पाण्डेय, उपजिलाधिकारी मछलीशहर अमिताभ यादव, क्षेत्राधिकारी, तहसीलदार सहित जिलास्तरीय अधिकारीगण उपस्थित रहे।